Daily Archives: 2013/04/23

MAN’S NEW DIALOGUE WITH NATURE

जब से मनुष्य ने अपने आप को प्रकृति से अलग किया, तभी से उसका प्रकृति के साथ वार्तालाप जारी है। इसी वार्तालाप की देन है-दर्शन शास्त्र, विज्ञान, समाजशास्त्र तथा साहित्य-कला जैसे अन्य अनुशासन। वर्ग समाज ने निश्चय ही इस वार्तालाप … Continue reading

Posted in General | Leave a comment