Monthly Archives: March 2013

फाइव ब्रोकेन कैमराज : फिलिस्तीन का गुरिल्ला सिनेमा

वेस्ट बैंक स्थित अपने गांव ‘बी लिन’ की जमीन पर इजराइलियों के अनाधिकृत कब्जे और इसके खिलाफ फिलिस्तीनियों के प्रतिरोध को 2005 से 2010 तक अपने कैमरे से कैद करने की कोशिश में इस फिल्म के डायरेक्टर ‘इमाद बुरनाद’ के … Continue reading

Posted in General | Leave a comment

Chinua Achebe: Without the story we are blind

Anthills of the Savannah (1987), the last novel the late Chinua Achebe wrote, has a chapter with the title Impetuous Son. The impetuous son is Ikem Osodi, poet and newspaperman, a character drawn from the skeleton of Achebe’s friend, the … Continue reading

Posted in General | Leave a comment

किलरकोक डाट ओआरजी

होली के बाद अब गर्मी ने दस्तक देनी शुरु कर दी है। इसी के साथ हमारी प्यास बुझाने के लिए ‘पेप्सी’ और ‘कोक’ जैसी बड़ी कम्पनियों ने कमर कस ली है। हमारी प्यास तो उनकी एक बोतल पी कर बुझ … Continue reading

Posted in General | Leave a comment

‘रोजा पार्क’ का जन्म शताब्दी वर्ष…

यह ‘रोजा पार्क’ का जन्म शताब्दी वर्ष है। उनका जन्म 4 फरवरी 1913 को अमेरिका के अलाबामा शहर में हुआ था। उनके जन्मदिवस (4 फरवरी) और उनकी बहुचर्चित गिरफ्तारी (1 दिसम्बर) को अमेरिका में विशेषकर अफ्रीकन अमरीकियों के बीच ‘रोजा … Continue reading

Posted in General | Leave a comment

Iraq: War’s legacy of cancer

दुनिया में एक जगह ऐसी है जहां महिलाएं बच्चे पैदा नही करना चाहती। कारण कि वहां बच्चे नार्मल नही पैदा हो रहे है। किसी बच्चे के दो सिर तो किसी की एक आंख और किसी के हाथ पांव गायब। यह … Continue reading

Posted in General | Leave a comment

लत बगावत की……

[आज आठ मार्च है, अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस! मुक्ति के लिए महिला संघर्षों का एक प्रतीक दिवस! लेकिन आज इसकी सबकी अपनी व्याख्या है। सबकी अपनी समझ है। हमारे लिए अन्तरराष्ट्रीय महिला दिवस प्रतीक है उन संघर्षों का ही जिनकी वजह … Continue reading

Posted in General | 1 Comment

माँ

बच्चों पे चली गोली माँ देख के यह बोली यह दिल के मेरे टुकड़े यूँ रोए मेरे होते मैं दूर खड़ी देखूँ ये मुझ से नहीं होगा मैं दूर खड़ी देखूँ और अहल-ए सितम खेलें ख़ून से मेरे बच्चों के … Continue reading

Posted in General | Leave a comment

The Revolution Will Not Be Televised

अप्रैल 2002 में 2 दिन के लिए शावेज को सत्ता से बेदखल कर दिया गया था। जाहिर है यह षडयत्रं अमरीका ने ही रचा था। लेकिन जाहिर है वह इसमें कामयाब नही हो पाया। इसका कारण था वेनेजुएला में शावेज … Continue reading

Posted in General | Leave a comment