Monthly Archives: June 2013

जिजीविषा और प्रतिरोध की प्रतीक ‘हेलन केलर’

‘हेलन केलर’ का जन्म 27 जून 1880 को अमरीका के ‘अलाबामा’ शहर में हुआ था। जन्म के महज 18 माह बाद एक बीमारी के कारण उनकी सुनने और देखने की शक्ति खत्म हो गयी। ना देख पाने व ना सुन … Continue reading

Posted in General | Leave a comment

सभ्यता की सीढ़ी पर पहले कदम महिलाओं के ही पड़े…..

‘सामाजिक श्रम ही वह विशेषता है जो मनुष्यों को पशुओं से अलग करता है। शुरुआत में यह विशेषता सिर्फ महिलाओं के पास थी। इस तरह से हम कह सकते है कि महिला ही मानव जाति की पहली किसान, पहली डाक्टर, … Continue reading

Posted in General | Leave a comment

साइबर स्पेस का सैन्यीकरण…..

‘साइबर स्पेस का तेजी से सैन्यीकरण हो रहा है। एक तरह से कहे तो साइबर स्पेस पर सैन्य आधिपत्य स्थापित हो रहा है। जब आप इन्टरनेट के माध्यम से अपनी सूचनाओं का आदान प्रदान करते है या नेट से जुड़े … Continue reading

Posted in General | Leave a comment

बर्फ के भीतर छिपी आग

बस अभी ओरहान पामुक का उपन्यास ‘स्नो’ पढ़ कर खत्म किया। अजीब संयोग है कि जब यह उपन्यास अपने पढ़ कर खत्म करने को थी तभी तुर्की में प्रतिरोध आन्दोलन छिड़ा हुआ है। मुद्दा वही चिरपरिचित है-जनता का सरकार के … Continue reading

Posted in General | Leave a comment